प्राइवेट कर्मचारियों ने मोदी जी को लिखा खत, कहा हमारे ऊपर भी ध्यान दिया जाये




प्राइवेट कम्पनियों के वर्कर्स ने मोदी जी के नाम एक प्रार्थना पत्र लिखा जिसमे वेतन को लेकर हो रहे अत्याचार के बारे मे जिक्र है।

सेवा मे,
     

                          माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी
                          भारत सरकार
                     

विषय : प्राईवेट नौकरी में हो रहे अत्याचार की सूचना हेतु प्रार्थना पत्र !!

महोदय
       
              सविनय निवेदन इस प्रकार है । कि  कोई भी प्राईवेट कंपनी  या कोई शॉप पर सेल्स मैन की जॉब पर हमें 6,000 से 8,000 हर महीने   देते हे। और हमसे 12 घण्टे काम लेते है  और बहीं सरकारी नोकरी के एक चपरासी को हर महीने 45,000 तक मिलते और उसमें भी 8 घंटे ड्यूटी ।
  माननीय प्रधान मंत्री जी हम ये नही कहते हमे भी 8 घंटे की ड्यूटी  दो । हमे 12 घंटे की ड्यूटी दो  माननीय प्रधान मंत्री जी आपसे अनुरोध
  हमे इतनी इनकम दो जिसमे हमारे 2 बच्चे स्कूल मे पड़ सके । हम भी  2 टाइम अच्छे से खाना खा सके ।
परिवार में अगर कोई बीमार हो तो उसकी की दवाई आ सके ।
और हम भी 10 साल जॉब करने के बाद एक
100 गज का मकान ले सके ।
जो की एक सरकारी जॉब बाला चपरासी 5 साल मे  ले लेता हैं ।
अब महोदय आप ही बताय। 8,000 मे ये सब कैसे हो सकता है,
 माननीय प्रधान मंत्री जी आपसे अनुरोध है कि
जो मार्केट शॉप सेल्स मैन  है और प्राइवेट कंपनी के वर्कर हैं उन पर भी ध्यान दे
उनको 6,000नही 16,000से 24,000 तक मिले जो की एक  परिवार का गुजारा हो पाए ।
 आपकी अति कृपा होगी ।



                                                               धन्यवाद

                                                                                                              आपका  गरीब नागरिक                     





Free part time job - click here









Post a Comment

0 Comments