बिना पैसे लगाए रोज हो सकती है हजारों की कमाई, यह है तरीका-Multi info

बिना पैसे लगाए रोज हो सकती है हजारों की कमाई, यह है तरीका-Multi info

 अगर कोई कारोबार शुरू करने की सोच रहे हैं तो इसके लिए पैसा अहम है। हालांकि अगर समझदारी दिखाई जाए तो बिना इन्‍वेस्‍टमेंट के भी रोज हजारों रुपए की कमाई संभव है। स्‍टॉक मार्केट आपकोऐसा मौकादेता है। इसमें अगर गलत डील नहीं हों तो आपका पैसा पूरी तरह सेफ रहता है और उस पर कमाई अलग से होती है।

कमाई का यह है तरीका

स्टॉक मार्केट में अधिकांश लोग यही काम करते हैं, जिसे डे ट्रेडिंग कहा जाता है। स्टॉक मार्केट में 90 फीसदी कारोबार डे-ट्रेडिंग का होता है। इस कारोबार में सुबह शेयर खरीदा जाता है और मार्केट बंद होने के पहले बेच दिया जाता है। इस बीच शेयर खरीदने और बेचने का अंतर आपका फायदा होता है।


अच्छी प्लानिंग से रोज हो सकती है हजारों की कमाई


मिलती है यह सुविधा भी

स्‍टॉक मार्केट में एक और सुविधा होती है कि आप बिना खरीदे पहले शेयर बेच सकते हैं और मार्केट बंद होने के पहले जितने शेयर बेचे थे, उतने खरीद कर ट्रेड बराबर कर सकते हैं। इसमें आपके बेचने और खरीदने के बीच का अंतर आपका फायदा होगा। यह कारोबार काफी आसान है, लेकिन शुरू करने के पहले कुछ सावधानियां जरूरी हैं जिससे नुकसान से बचा जा सके और फायदे को बढ़ाया जा सके।

–ऐसे करें शुरुआत

सबसे पहले खोलें डीमैट और ट्रेडिंग खाता

डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोलने के लिए किसी स्‍टॉक ब्रोकर कंपनी से संपर्क करना होता है। यहां पर कुछ जरूरी प्रोसेस के बाद यह खाता खुल जाता है। आमतौर पर ब्रोकर कंपनियां एक साल के लिए फ्री खाता खोल देती हैं। इस खाते में आप शेयर से लेकर म्‍युचुअल फंड तक खरीद सकते हैं। यह खाता ऑनलाइन खोलते हैं तो पूरा काम घर से खुद ही कर सकते हैं। इसके अलावा ऑफलाइन खाता भी खुलता है। ऐसे खाते में इन्‍वेस्‍टर या तो फोन करके ट्रेड कर सकता है या ब्रोकर कंपनी के आफिस जाकर ट्रेड कर सकता है।

–ट्रेडिंग के नियम

मार्केट में डे-ट्रेडिंग की कई स्ट्रैटजीस हैं

कई तरह से होती है ट्रेडिंग

ट्रेडिंग कई तरह से होती है। इनमें शेयर खरीदना, बेचना, डे ट्रेड, शार्ट सेल आदि शामिल हैं। शेयर खरीदने में इन्‍वेस्‍टर किसी भी शेयर को खरीद सकता है। वह इसे उसी दिन बेचे या बाद में यह उसकी मर्जी होती है। शेयर बेचने के लिए उसके पास पहले से शेयर होना जरूरी है। अगर उसके डीमैट खाते में पहले से कोई शेयर है तो उसे कभी भी बेच जा सकता है।

डे ट्रेड: डे ट्रेड का मतलब होता है कि स्‍टॉक उसी दिन खरीदा-बेचा या बेचा-खरीदा जाए। इसका मतलब है अगर किसी शेयर को उसी दिन खरीदा है तो मार्केट बंद होने के पहले बेच दें।

शार्ट सेल: शार्ट सेल का मतलब है कि आपके पास शेयर नहीं है और आपको लगता है कि इस शेयर का भाव नीचे जाएगा, तो आप उसे पहले बेच सकते हैं। लेकिन इस ट्रेड में इस बात को ध्‍यान रखना जरूरी है कि यह शेयर आपको मार्केट बंद होने के पहले ही खरीदना जरूरी होता है। नहीं तो काफी नुकसान होता है।

–कैसे होगी बिना पैसे लगाए कमाई

हरदम मजबूत कंपनियों में ही करना चाहिए ट्रेडिंग

शेयर के रेट के उतार-चढ़ाव का उठाएं फायदा

देश में दो स्‍टॉक मार्केट में हैं। एक है बॉम्बे शेयर बाजार और दूसरा नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज। दोनों में मिलाकर करीब 10 हजार कंपनियां लिस्‍टेड हैं। स्‍टॉक मार्केट में दिन भर इन कंपनियों के स्टॉक्स में ट्रेडिंग चलती है। इस दौरान शेयरों का रेट ऊपर नीचे होता रहता है। इसी रेट के उतार-चढ़ाव का फायदा उठाकर कमाई की जा सकती है।

एक उदाहरण से समझें फायदे का तरीका

चम्‍बल फर्टिलाइजर

तारीख.        उच्‍चतम स्‍तर.      . निम्‍न स्‍तर                    अंतर (स्‍प्रैड)

10 जुलाई.       138.                    131                                7

7 जुलाई.         137.60.            130.20.                          7.40

6 जुलाई.         140.80.              132.25.                         8.55

नोट-आंकड़े रुपए में

–कैसे उठाना है फायदा

ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से की जा सकती है ट्रेडिंग

स्‍प्रैड का उठाएं फायदा

किसी भी शेयर का दिनभर की ट्रेडिंग का उच्‍चतम और निम्‍नतम रेट का अंतर स्‍प्रैड कहलाता है। ऐसे में चम्‍बल फर्टिलाइजर में 10 जुलाई को 7 रुपए का स्‍प्रैड था। यानी 131 रुपए और 138 रुपए के बीच निवेशक अधि‍कतम 7 रुपए का फायदा उठा सकता था। अगर उसने 200 शेयर भी खरीदे होते तो उसका फायदा 1400 रुपए हो सकता था। इसमें कुछ पैसा ब्रोकरेज के रूप में कटता है, बाकी पैसा आपका फायदा होता है।

कितना पैसा रहना चाहिए ट्रेडिंग खाते में

चम्‍बल फर्टिलाइजर का शेयर औसतन 140 रुपए का मान लिया जाए तो 200 शेयर 28 हजार रुपए के होते हैं। शेयर ब्रोकर कंपनियां 20 से 25 फीसदी मार्जिन पर ऐसी ट्रेड की सुविधा देती हैं। यानी आपके ट्रेडिंग खाते में अगर 5600 रुपए से लेकर 7 हजार तक का बैलेंस होना चाहिए। शाम को स्‍टॉक मार्केट जैसे ही बंद होगा, अगर आपने ट्रेड पूरी कर ली है तो आपका पैसा फ्री हो जाएगा। इसके अलावा जो फायदा होगा वह आपके ट्रेडिंग खाते में उसी दिन दिखने लगेगा। लेकिन सेबी के नियम T+2 के तहत यह पैसा आपको तीसरे ट्रेडिंग दिन मिलेगा, जिसे आप चाहें तो अपने बैंक खाते में ट्रांसफर कर सकते हैं।

–जानकारों की राय

टी प्लस 2 नियम के तहत फायदा तीसरे ट्रेडिंग डे पर मिलता है

सावधानी रखनी चाहिए

शेयरखान के वाइस प्रेसिडेंट मृदुल कुमार वर्मा के अनुसार ड्रे ट्रेड के दौरान सही शेयर का चुनाव करना चाहिए। आमतौर शेयर ब्रोकर कंपनियां रोज सुबह ऐसी टिप्‍स देती हैं। ये टिप्‍स उनके रिसर्च हाउस की तरफ से तैयार किए जाते हैं। इसके अलावा डे ट्रेड के लिए ऐसे शेयरों का चयन करना चाहिए जो अच्‍छे शेयर हैं।

जरूरी नहीं है कि रोज ट्रेड करें

च्‍वॉइस ब्रोकिंग के प्रेसिडेंट अजय केजरीवाल के अनुसार डे ट्रेडिंग करते वक्‍त शेयर का चुनाव पूरी सावधानी से करना चाहिए। उस शेयर के मूवमेंट के आंकड़ों पर नजर रखनी चाहिए। इसके अलावा डे ट्रेड करते वक्‍त शुरुआत में ही अपने फायदे को तय कर लेना चाहिए। कई बार ऐसा होता है कि निवेशक ज्यादा फायदे के लालच में थोड़े फायदे को भी गंवा देते हैं।

Post a Comment

0 Comments